शनिवार, 2 जनवरी 2010

वर्ष 2010 में भारतीय राजनीति:-भाग-2




भारतीय जनता पार्टी 
जय श्री राम ............ | मित्रो,अपने वादे के मुताबिक हम हाज़िर हैं भारतीय राजनीति से सम्बंधित भविष्यकथन का यह  भाग-2 ले कर | आज सब से पहले बात करते हैं देश के प्रमुख प्रतिपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी की | भाजपा का नामांक है-9 | इस का वृहदंक है-45 | यह बना है 17-12-16 से | इन के मूलांक हैं 8-3-7 | अंक 9 प्रतिष्ठा-वृद्धि बताता है,किन्तु 8-3-7  का समीकरण निरंतर उठापटक दर्शाता है | यह उठापटक निर्णयगत,पारस्परिक तालमेल एवं नीतिगत रहता है | भाजपा की स्थापना हुई 06-04-1980 को | इस मूलांक 6,मासांक 4,वर्षांक 9 और भाग्यांक 1 है | इस का संयुक्तांक भी 1 है | यह बहुत ही शुभत्व योग निर्मित कर रहा है | इस की सूर्य राशि मेष है | यह अग्नि त्रिकोण की प्रथम राशि है | इस की स्थापना का चलित अंक 9 (धनात्मक) है | अभी भाजपा को 30 वाँ वर्ष चल रहा है | इस का अंक है-3 | यह चलित वर्ष 2010 का अंक है | यह मूलांक और भाग्यांक का मित्र अंक है | इस लिए भाजपा को इस अवधी में अधिक अनुकूलता रह सकती है | चूँकि अंक ३ निर्णय तथा न्याय का अंक है तथा अभी इस की प्रबलता है,इस लिए भाजपा में कुछ विवादों का समाधान संभव है | 06-04-2010 के बाद भाजपा को  स्थापना का 31 वाँ वर्ष चल रहा होगा | इस का अंक बनता है-4 | यह पितृ अंक है | अंक 3 व अंक 1 के साथ इस की युति शासन/सत्ता में भागीदारी तो दिलवाएगी,किन्तु पितृ अंक की प्रबलता के कारण शासन में मुखिया/प्रमुखता नहीं रह पाएगी | साथ ही अपने वरिष्ठ साझेदार के साथ तालमेल को ले कर भी समस्याएँ आएँगी | इस अवधि में पार्टी में वरिष्ठ सदस्यों अथवा वरिष्ठता को ले कर भी समस्या रह सकती है | नितिन गडकरी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष का दायित्व 19-12-2009 को संभाला है | इस के मूलांक-भाग्यांक वे ही हैं,जो कि भाजपा के हैं | इस लिए पार्टी के पितृपुरुष गडकरी को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है | भाजपा के अध्यक्ष के रूप में गडकरी के भविष्य को ले कर हम विस्तार से कल बात करेंगे | 

       मायावती 
अब बात करते हैं बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती की | इन का नामांक है-1 | इस का वृहदंक है-19 | यह प्रभुत्व,प्रतिष्ठा और पराक्रम बताता है | इन का जन्म हुआ है 15-01-1956 को | इन का मूलांक 6,मासांक 1,वर्षांक 3,भाग्यांक 1 और संयुक्तांक 2 है | इनकी सूर्य राशि मकर है | यह थल त्रिकोण की तृतीय राशि है | इन के जन्म का चलित अंक है ८ (ओज) |  १५ जनवरी से इन्हें 55 वाँ वर्ष चल  रहा होगा | इस का अंक बनता है-1 | यह शासन,तीखेपन एवं आक्रामकता का अंक है | इस लिए मायावती के तेवरों में तेज़ी,तीखापन आएगा | इन की प्रशासनिक छटपटाहट बढ़ेगी | चूँकि इन के जन्म का चलित अंक 8 (ओज) है,इस लिए यह अंक 1 के साथ मिल कर क़ानून-व्यवस्था संबंधी परेशानी खड़ी होगी | इन के सामने क़ानूनी संकट आएँगे | इन के शासन को क़ानून-व्यवस्था संबंधी समस्याएँ झेलनी पड़ सकती हैं | चूँकि इन के जन्म का चलित काँग्रेस की स्थापना के चलित से समानता रखता है,इस लिए काँग्रेस से इन की सीधी टकराहट बार-बार होगी | चलते-चलते एक खास बात और | चूँकि मायावती के मूलांक-भाग्यांक भाजपा के मूलांक-भाग्यांक से प्रतिरूप युति रखते हैं,इस लिए ये भाजपा के साथ मिल कर सरकार बना सकती हैं |