सोमवार, 26 जनवरी 2015

जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव 2014 : हमारी भविष्यवाणी अपूर्व रूप से सही साबित

जय श्री राम ............ आदरणीय मित्रो, आइए अब बात करते हैं हाल ही में सपन्न जम्मू और कश्मीर विधानसभा चुनाव के बारे में की गयी हमारी भविष्यवाणी की| दिनांक 11 दिसम्बर, 2014 (गुरुवार) की अपनी ब्लॉग पोस्ट में हमने यह भविष्यवाणी की थी| हमारी 'कृपात्रयी' (प.पू. गुरुदेव देवरहा बाबा, माँ बगलामुखी और घोटेवाले) की कृपा से हमारी यह भविष्यवाणी अपूर्व रूप से सही साबित हुई|
# हमने कहा था:-"इस बार के चुनाव के बाद यहाँ की लोकतांत्रिक अस्थिरता बानी रहेगी यानि किसी एक दल की सरकार नहीं बन पाएगी| स्त्री अंक 7 के कारण इस बार भी सरकार गठबंधन की बनेगी|"
* हुआ यह:-जम्मू-कश्मीर की लोकतान्त्रिक अस्थिरता बरक़रार है| किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है| विभिन्न पार्टियों में सीटों का बँटवारा इस प्रकार हुआ है कि सरकार अगर बनेगी, तो गठबंधन की ही बनेगी| 
# हमने कहा था:-"इस बार की विधानसभा का अंक 1 राज्य के मूलांक 8 व नामांक 8 के साथ प्रबल विरोधी युति बनाता है| यह युति सत्ता/सरकार के विरुद्ध जाती है| अतः इस बार बनने वाला मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला हो ऐसा नहीं लगता| यदि नेशनल कॉन्फ्रेंस प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से सत्ता में भागीदार हुई तो उमर अब्दुल्ला को मुख्यमंत्री-पद मिलता नहीं दिख रहा है|"
* हुआ यह:-स्थिति बिलकुल स्पष्ट है कि उमर अब्दुला मुख्यमंत्री नहीं हो पाएँगे; यहाँ तक कि नेशनल कॉन्फ्रेंस सत्ता में भागीदार हो जाएगी, तब भी नहीं क्योंकि उनके दल के पास इस योग्य सीटें ही नहीं हैं|| 
# हमने कहा था:-"भाजपा को 18 (कम-अधिक 3) यानि 21 सीटें मिल सकती हैं|"
* हुआ यह:-भाजपा को 25 सीटें मिलीं|
# हमने कहा था:-"पी डी पी को 31 (कम-अधिक 6) सीटें मिल सकती हैं|"
* हुआ यह:-पी डी पी को २८ सीटें मिलीं|
# हमने कहा था:-"नेशनल कॉन्फ्रेंस को 20 (कम-अधिक 4) सीटें मिल सकती हैं|"
* हुआ यह:-नेशनल कॉन्फ्रेंस को 15 सीटें मिलीं|

# हमने कहा था:-"इसका (पी डी पी का) सिर्फ़ नामांक व आयु-अंक काम लिया गया है| इस कारण इसके यहाँ भी सीटों के मामले में कुछ अंतर आ सकता है| यह अंतर इतना भी हो सकता है कि भाजपा व इसके बीच सीटों का फ़ासला अधिक न रहे|"
* हुआ यह:-पी डी पी को 28 व भाजपा को 25 सीटें मिलीं| भाजपा व पी डी पी के बीच सीटों का फ़ासला मात्र 3 सीटों का रहा|
# हमने कहा था:-"भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष जुगल किशोर शर्मा का पूर्ण जन्म-विवरण उपलब्ध नहीं है| अतः भाजपा की सीटों के मामले में कुछ और अंतर आ सकता है| यह अंतर इसे दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बना सकता है|"
* हुआ यह:-हमारी यह बात आश्चर्यजनक रूप से सही साबित हुई| भाजपा अब तक का सबसे बड़ा चमत्कार करती हुई 25 सीटों के साथ दूसरी सबसे बड़ी पार्टी बन गयी|
# हमने कहा था:-"यहाँ कोई दल अकेले अपने दम पर सरकार बनाने की स्थिति में दिखाई नहीं दे रहा है| बहुमत के जादुई आंकड़े 44 को पाने के लिए इस गठबंधन तो करना पडेगा|"
* हुआ यह:-अब बिलकुल साफ़ है कि सिर्फ़ गठबंधन की सूरत में ही सरकार बन पाएगी, अन्यथा दुबारा चुनाव करवाने पड़ेंगे|
              आप स्वयं देख लीजिए कि हमारी उक्त भविष्यवाणी कितनी सही साबित हुई| इन भविष्यवाणियों का यह क्रम आगे भी बना रहेगा| आपसे फिर भेंट होगी अगली पोस्ट के साथ| तब तक के लिए आज्ञा दीजिए| ........... जय श्री राम