शुक्रवार, 1 नवंबर 2013

दिल्ली विधानसभा चुनाव-2013 : भाग-1 : 'दिल्ली' राज्य व शीला दीक्षित

जय श्री राम ............| आदरणीय मित्रो, अब बात करते हैं दिल्ली की| सब की सबसे ज़्यादा निगाहें यहीं लगी हैं| यह देखा जाएगा कि यहाँ कांग्रेस और शीला दीक्षित क्या जीत का चौका लगा पाएँगी? हाँ, आपको यह बताते चलें कि यह भविष्यवाणी दिनक 27-03-2013 (बुधवार) से आरम्भ होकर 12-08-2013 (सोमवार) को पूर्ण हुई| अंक ज्योतिष और बॉडी लैंग्वेज पर आधारित हमारे मासिक अख़बार 'अंक प्रभा' के सितम्बर माह के अंक में प्रकाशित हो चुकी है| 


दिल्ली
निर्माण-दिनांक:-01-02-1992     नामांक:-9       मूलांक:-1       भाग्यांक:-6      
आयु अंक:-4 (22 वाँ वर्ष)        चलित दशा:-अंक 3 (वर्ष 2011 से वर्ष 2013 तक)
दिल्ली में यह पाँचवाँ विधानसभा चुनाव है| इससे पहले वर्ष 1993, 1998, 20032008 में चुनाव हुए थे| 1998 के चुनावों से लगातार कांग्रेस का ही कब्ज़ा चला आ रहा है| 'दिल्ली' राज्य का मूलांक 1  भाग्यांक 6 में परस्पर विरोधी युति है| चुनावी वर्षांक 6 + दिल्ली का भाग्यांक 6 इसके मूलांक 1 का विरोधी है| यह अंक 6 चलित दशा (अंक 3) का प्रबल विरोधी है| यह अंक दिल्ली के नामांक 9 का भी विरोधी है| दिल्ली का मूलांक 1 + आयु अंक 4 निर्माण के चलित अंक 8 का प्रबल विरोधी है| इसके मूलांक 1 व आयु अंक 4 में परस्पर विरोधी युति है, साथ ही आयु अंक 4 मूलांक 1 व भाग्यांक 6 का विरोधी है| अभी दिल्ली को पितृ अंक का वर्ष चल रहा है| इसके मूलांक व भाग्यांक से इस पितृ अंक की विपरीतता के कारण इस बार राज्य का पितृ पुरुष यानि मुख्यमंत्री बदल सकता है|


शीला दीक्षित
जन्म-दिनांक:-31-03-1938       नामांक:-2      मूलांक:-4       भाग्यांक:-1      
आयु अंक:-4 (76 वाँ वर्ष)        चलित दशा:-अंक 3 (वर्ष 2011 से वर्ष 2013 तक)
शीला दीक्षित का मूलांक 4 + आयु अंक 4 दिल्ली के आयु अंक 4 के साथ प्रतिरूप युति + दिल्ली के नामांक 9 + दिल्ली की चलित दशा (अंक 3) + स्वयं की चलित दशा (अंक 3) + स्वयं के नामांक 2 के साथ समभाव युति तथा स्वयं के भाग्यांक 1 + दिल्ली के मूलांक 1 के साथ ग्रहण योग व पितृदोष पैदा करता है| इस कारण इस बार शीला दीक्षित के अपने 'पितृपुरुष' यानि आलाकमान की कृपा में कमी संभव है| इनका नामांक 2 इनके मूलांक 4 + आयु अंक 4 + भाग्यांक 1 + दिल्ली के मूलांक 1 के साथ मित्र युति, दिल्ली के भाग्यांक 6 + चुनावी वर्षांक 6 के साथ समभाव युति बनता है| शीला दीक्षित के लिए यह राहत वाली बात है| इनका भाग्यांक 1 दिल्ली के मूलांक 1 के साथ प्रतिरूप युति, दिल्ली के भाग्यांक 6 + चुनावी वर्षांक 6 के साथ विरोधी युति, दिल्ली के आयु अंक 4 के साथ ग्रहण योग व पितृदोष तथा दिल्ली की चलित दशा (अंक 3) + स्वयं की चलित दशा (अंक 3) के साथ समभाव युति बनाता है| ये युतियाँ नेता/मुखिया का सुख-भंग करती है| इसलिए इस बार शीला दीक्षित की राह बहुत काँटोंभरी है| इस बार तो यह भी सम्भव है कि कांग्रेस का बहुमत आने के बाद भी शीला दीक्षित मुख्यमंत्री न बन पाएँ|

मिलते हैं अगली पोस्ट के साथ| ............ जय श्री राम|