शनिवार, 25 सितंबर 2010

म.प्र.नेता-प्रतिपक्ष जमुना देवी का निधन:::हम ने पहले ही संकेत कर दिया था

  जय श्री राम ............ | आदरणीय मित्रो,कल १00 वीं पोस्ट डालते वक़्त सोचा तो यही था कि अब कुछ दिन रुक कर ही मिलेंगे,कल हुए एक दुर्घटनाक्रम ने आज ही रू-ब-रू होने के लिए मजबूर कर दिया | मध्यप्रदेश की नेता-प्रतिपक्ष जमुना देवी का ८० वर्ष की आयु में कल प्रातः छह बजे निधन हो गया | उन का जाना न सिर्फ कांग्रेस,बल्कि मध्यप्रदेश की राजनीति के लिए बहुत बड़ा आघात है | पेट के कैंसर से पीड़ित जमुना देवी गत चार महीनों से बीमार थीं | हम ने जमुना देवी के कमज़ोर होने तथा विपक्ष के प्रभुत्व में कमी की ओर पहले ही संकेत कर दिया था | ३० दिसंबर,२००९ की अपनी पोस्ट 'वर्ष २०१० में मध्यप्रदेश' में हम ने लिखा था --- " नामांक ८ की इस के साथ युति विपक्ष के प्रभुत्व में कमी भी बताती है | साथ ही विपक्ष में स्त्री पक्ष के प्रभुत्व में कमी और पारस्परिक तालमेल में कमी भी बताती है | इसलिए कांग्रेस में जमुना देवी का प्रभाव कम हो सकता है | "
      मित्रो,इस वर्ष जमुना देवी लगभग निष्क्रिय-सी रही हैं | स्वास्थ्य-समस्या के चलते वे कुछ नहीं कर पायीं | यहाँ तक कि विगत जुलाई में आहूत विधानसभा सत्र में उन का काम उपनेता ने संभाला | अब जाहिर बात है कि  नेता की निष्क्रियता से प्रतिपक्ष के प्रभुत्व में कमी तो आनी ही थी | जमुना देवी की बीमारी और उन के देहावसान से कांग्रेस में स्त्री पक्ष को कमज़ोर ही हुआ है |    
      अभी बस इतना ही | अब आज्ञा दीजिए | ....... आज के आनंद की जय | ......... जय श्री राम |