बुधवार, 25 नवंबर 2009

झारखण्ड विधानसभा चुनाव 2009 : क्या रहेगी तस्वीर?

जय श्री राम ............ | कल हम ने देखा कि झारखण्ड  विधानसभा चुनाव के मतदान व मतगणना के अंक क्या कहते हैं ? साथ ही हम ने यह भी देखा कि स्वयं 'झारखण्ड' के अंक किस ओर इशारा करते हैं?                                                              भारतीयजनतापार्टी                                                                            भाजपा को अभी आयु-अंक 03 (30 वाँ वर्ष) चल रहा है | चुनावी वर्षांक है-02 | यह परिवार का अंक है | यह भाजपा के पक्ष में नहीं चल रहा है | अंक 03 के साथ इस की युति परिवार में निर्णयों तथा मैत्री-भाव से सम्बंधित विषमता दर्शाती है |  इसी कारण  06-04-2009 के बाद भाजपा परिवार में पारस्परिक मैत्री-भाव की ज़बरदस्त कमी दिखाई दे रही है | साथ ही निर्णयगत विषमताएँ भी बराबर आ रही हैं | यह सिलसिला अभी तो चलेगा | अंक 02 साझेदारी का भी अंक है | यह विरुद्ध होने के कारण भाजपा को साझेदारी के मोर्चे पर भी झटके झेलने पड़ेंगे | जद(यू) के साथ जैसे-तैसे कर के तालमेल भले ही हो गया है,मगर यह रास्ता इतना आसान भी नहीं है | भाजपा को सत्ता के मामले में हानि उठानी पड़ सकती है | संभवतः इसे जद(यू) के अलावा किसी और को भी सरकार बनाने के लिए साथ लेना पड़ जाए | भाजपा का भाग्यांक 01 राज्य के नामांक 08 के साथ 'द्रोहात्मक युति' बनाता है | यह युति सत्ता से दूर ले जाती है | भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह का मूलांक 01 भी यही युति बनाता है | भाजपा के मूलांक-भाग्यांक तथा राजनाथ सिंह के मूलांक-भाग्यांक में प्रतिकूलता का समीकरण है | अतः राजनाथ के राष्ट्रीय अध्यक्ष होने का नुकसान तो भाजपा को उठाना ही होगा | सत्ता भाजपा के हाथों में समुचित रूप से नहीं आ पाएगी | हाँ,यदि राजनाथ चुनाव-परिणाम से पहले अपने पद से विदा हो जाएँ तो भाजपा के नुकसान का प्रतिशत कम तथा लाभ का प्रतिशत अधिक हो सकता है | भाजपा का मूलांक-भाग्यांक झारखण्ड के मूलांक-भाग्यांक के साथ 'प्रतिरूप युति' बनाता है | साथ ही अर्जुन मुंडा के अंकीय समीकरण भी पक्ष के बन रहे हैं | अतः भाजपानीत सरकार बनती है तो इस का श्री इस 'प्रतिरूप युति' तथा अर्जुन मुंडा के अंकीय समीकरणों को दिया जाना चाहिए | चूँकि भाजपा अर्जुन मुंडा को आगे रख कर ये चुवाव लड़ रही है,इस लिए इन के अंकों की भूमिका भी बहुत महत्त्वपूर्ण बन जाती है | 05-01-१९६८ को जन्मे मुंडा का मूलांक 05 एवं भाग्यांक 03 है | इन का नामांक है-08 | यह झारखण्ड के नामांक के साथ 'स्पार्किंग' पैदा करता है | इन के जन्म का चालित का अंक है-08 (ओज) | यह इस 'स्पार्किंग' को धारदार बनाता है | इसी कारण मुंडा झारखण्ड के मुख्यमंत्री के रूप में कभी भी अपना पाँचवर्षीय कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएँगे | ये जब भी मुख्यमंत्री बनेंगे,इन्हें अपना पद बीच में ही छोड़ना पड़ेगा | हर बार उठापटक इन के पद की बलि ले लेगी | इन के जन्म का मूलांक अस्थिरता सूचित करता है | अंक 08 (ओज) के साथ इस की युति उठापटक की तीव्रता बढ़ाती है | अर्जुन मुंडा का आयु-अंक है -06 (42 वाँ वर्ष) | इन्हें अभी अंक 06 की ही दशा चल रही है | यह वर्ष 2010 तक चलेगी | यह अंक 06 ही झारखण्ड का मूलांक है | इन का भाग्यांक 03 झारखण्ड के मूलांक तथा भाग्यांक के साथ मैत्री-भाव रखता है | यह मतदान के चलित के समय के साथ ;प्रतिरूप युति' बनाता है | ये सभी समीकरण अर्जुन मुंडा के पक्ष में निर्णय करते दिख रहे हैं | अतः मुंडा मुख्यमंत्री बन सकते हैं | उम्र के 44 वें वर्ष के शुरू होते ही यानि 05-01-2011 से मुंडा की मुश्किलें शुरू हो जाएँगी,जो कि वर्ष 2013 की समाप्ति तक इन के पद  की बलि ले ले तो आश्चर्य नहीं होना चाहिए |                                                                                      भारतीयराष्ट्रीयकांग्रेस                                                                  02-01-1978 को अपने वर्त्तमान स्वरूप में आयी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का आयु-अंक 05 (32 वाँ वर्ष) है | इस का नामांक झारखण्ड के मूलांक-भाग्यांक तथा मतदान व मतगणना के समय आयु-अंक के साथ मैत्री-भाव रखता है | इस पार्टी का मूलांक 02 इस के विशेष पक्ष में नहीं है | यह साझेदारी का अंक है | इस के ख़राब होने से कांग्रेस को साझेदारी के मामले में परेशान होना पड़ रहा है तथा होना पड़ेगा | महाराष्ट्र में एन सी पी के साथ खेंचातानी तथा खर्खंड में शिबू सोरेन के साथ गठजोड़ टूटना--इसी के प्रमाण हैं | कांग्रेस को अभी अंक 07 की दशा चल रही है,जो कि इस के मूलांक की सहयोगी है | इस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को मतगणना के दिन 64 वाँ वर्ष चल रहा होगा |इस का अंक बनाता है-01 | यह कांग्रेस तथा झारखण्ड के भाग्यांक के साथ 'प्रतिरूप युति' तथा झारखण्ड के नामांक के साथ 'द्रोहात्मक युति' बनाता है | सोनिया गांधी को इसी अंक 01 की दशा भी चल रही है |यह दशा वर्ष 2009 की समाप्ति तक चलेगी | यह भी कांग्रेस के पक्ष में समीकरण बनाती है | कांग्रेस के आयु-अंक तथा सोनिया के भाग्यांक 05 की अंक 02 के साथ मित्रता कुछ कम रहती है | अतः कांग्रेस को परेशानी तो उठानी पड़ेगी | हालाँकि इस के पक्ष में कुछ अच्छे समीकरण भी बन रहे हैं,मगर ये इतने तगड़े भी नहीं हैं कि कांग्रेस को सत्तासीन कर दें | हाँ,इतना अवश्य हो सकता है कि इस की सीटों में पिछली बार की तुलना में वृद्धि हो जाए |                                                                                                                                   जनतादल(यू)                                                                                                                                     30-10-2003 को अस्तित्व में आये जद(यू) का मूलांक झारखण्ड के मूलांक-भाग्यांक के साथ मैत्री-भाव रखता है | इस का नामांक झारखण्ड के भाग्यांक के साथ'प्रतिरूप युति' बनाता है | इस का आयु-अंक 07 मूलांक के साथ खींचातानी कर रहा है | इसे अभी अंक 01 दशा चल रही है | यह सत्ता-प्राप्ति में मदद कर सकती है | इस के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव का मूलांक राज्य के भाग्यांक के साथ 'प्रतिरूप युति' बनाता है | इन का भाग्यांक 02 साझेदारी की भावगत प्रबलता दर्शाता है | इसी कारण झटके खा कर भी जद(यू) का भाजपा के साथ सीटों को ले कर तालमेल हो ही गया | इन का आयु-अंक जद(यू) के भाग्यांक के साथ 'प्रतिरूप युति' तथा मूलांक के साथ मैत्री-भाव रखता है | इन्हें अंक 06 की दशा चल रही है | अंक 09 सशक्तावास्था जद(यू) को सत्ता के निकट ले जा सकती है |यह इस दल की स्थिति में सुधर कर सकती है | इस के परिणामस्वरूप जद(यू) की सीटें पिछली बार की तुलना में बढ़ सकती हैं |                                                                        राष्ट्रीयजनतादल                                                                        05-07-1997 को बने राष्ट्रीय जनता दल का मूलांक 05,भाग्यांक 02 तथा नामांक भी 05 है | इस के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का मूलांक 02 इस के भाग्यांक तथा चुनावी वर्षांक के साथ 'प्रतिरूप युति' बनाता है | वर्ष 2006 से यह अंक लालू के लिए विशेष प्रतिकूल अवस्था में है | वैसे इस की प्रतिकूलता वर्ष 2002 से ही आरम्भ हो गयी थी | राजद का भाग्यांक  भी 02 होना लालू के दुर्भग्य की तीव्रता को और बढ़ा देता है | इसी की प्रतिकूलता  के कारण लालू को साझेदारी के मामले में झटके झेलने पड़ रहे हैं तथा वर्ष 2014 तक झेलने पड़ेंगे | कारण यह है कि लालू को अभी अंक 08 की दशा चल रही है,जो कि वर्ष 2014 तक चलेगी | कोढ़ में खाज यह कि लालू को अभी 62 वाँ वर्ष चल रहा है,जिस का अंक बनता है-08 | इन की पार्टी को 13 वाँ वर्ष चल रहा है,जिस का अंक बनता है-04 | अंक 08 तथा अंक 04 का मेल विखंडन पैदा करता है | यह विखंडन लालू को सत्ता से दूर तो रखेगा ही,साथ ही इन की पार्टी की सीटें भी कम करवा सकता है | लालू का नामांक,भाग्यांक तथा संयुक्तांक कुछ अनुकूलता ज़रूर बना रहे हैं,मगर अन्य प्रतिकूल समीकरण इस अनुकूलता पर भारी पड़ेंगे |    झारखण्ड मुक्ति मोर्चा व अन्य                                                       झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का भाग्यांक शिबू सोरेन के नामांक तथा भाग्यांक के साथ 'प्रतिरूप युति' बनता है | यह झारखण्ड के मूलांक-भाग्यांक के साथ मैत्री-भाव रखता है | इस दृष्टि से इन की स्थिति अच्छी रहनी चाहिए |शिबू सोरेन का मूलांक है-02 | यह साझेदारी तथा परिवार का अंक है | यही चलित का वर्षांक है | यह सोरेन के प्रतिकूल है | इस की प्रतिकूलता के कारण ही सोरेन की कांग्रेस के साथ साझेदारी टूट गयी | यह प्रतिकूलता इन्हें नुकसान पहुँचाएगी | झारखण्ड मुक्ति मोर्चा का आयु-अंक -04 (40 वाँ वर्ष) झारखण्ड के नामांक के साथ विखंडन पैदा करता है | यह झारखण्ड के भाग्यांक के साथ पितृदोषयुक्त ग्रहण-अवस्था बनाता है | हमारे पास इस दल की स्थापना के पूर्ण विवरण की बजाय मात्र  वर्ष उपलब्ध है | यह है-1970 | इस का अंक बनाता है-08 | यह झारखण्ड  के नामांक के साथ 'स्पार्किंग' तथा भाग्यांक के साथ 'द्रोहाय्मक युति' बनाता है | अतः पिछली बार की तुलना में इन की सीटें कम हो सकती हैं | मैत्री-भाव तथा प्रतिरूप युतिओं की अनुकूलताओं के कारण यह हो सकता है कि सीटों का नुकसान ज्यादा न हो या कोई और सान्त्वनादायक  बात भी सामने आ सकती है |जैसे कि कांग्रेस की तरफ़ से सरकार बनाने के लिए सहयोग देने के लिए बुलाया जा सकता है | अगर ऐसा होता भी है तो यह साथ बहुत लंबा चलने वाला नहीं रहेगा |                                                                                                हमें बाबूलाल मरांडी का जन्म-विवरण तथा इन के 'झारखण्ड  विकास मोर्चा' की स्थापना का विवरण उपलब्ध नहीं हो पाया | ऐसे में हम ने इन दोनों के नामांक तथा बाबूलाल मरांडी की बॉडी लैंग्वेज को काम में लिया है | झा वि मो का का नामांक 08 तथा मरांडी का नामांक 09 है | अंक ०८ राज्य के नामांक के साथ 'स्पर्किन' पैदा करता है तथा अंक 09 इस के साथ विरुद्ध-भाव रखता है | अतः मरांडी के लिए इसी अवस्था में सत्ता में भागीदारी बहुत दूर की कौड़ी लगती है | संयुक्तांक 04 तथा आयु-अंक 05 के प्रभाव में चलने वाली कांग्रेस के साथ साझेदारी से इन्हें कोई विशेष लाभ नहीं होने वाला है | इन की पार्टी दीर्घजीवी नहीं रहेगी तथा देर-सवेर इन्हें अपने 'पितृदल'  भाजपा में ही आना होगा |                                                                                                                              संभावित सीटवार स्थिति         
भाजपा:-25-29  कांग्रेस:-11-15  जद(यू):-08-11  
राजद:-04-06     झामुमो:-10-13       झाविमो:-03-05