सोमवार, 1 अक्तूबर 2012

नीतीश कुमार के विरोध में स्वर तेज़ : हमारी भविष्यवाणी सही साबित

जय श्री राम............| आदरणीय मित्रो, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का विरोध निरंतर बढ़ रहा है| सभाओं में उनके खिलाफ जनता का गुस्सा फूट रहा है| हालत तो यह है कि 30 सितम्बर, रविवार को किसनगंज में हुई नीतीश की सभा में 2000 की भीड़ के लिए भी 1200 पुलिसवाले थे| इसके साथ ही सहयोगी दल के लोगों के साथ विवाद भी बढ़ रहा है| ऐसी ही एक घटना कल 30 सितम्बर को भी हुई है| पूर्णिया से भाजपा सांसद उदय सिंह ने नीतीश की 'अधिकार रैली' के विरोध में 'वेदना रैली' निकली| हमने इन सब के बारे में पहले ही कह दिया था| E TV के सभी हिन्दी चैनलों से प्रसारित होने वाले अपने साप्ताहिक कार्यक्रम 'अंक प्रभा' के दिनांक 28 फरवरी, 2012 के एपिसोड और अपने ब्लॉगों पर नीतीश कुमार के जन्म-दिन 01 मार्च के सन्दर्भ में हमने साफ़-साफ़ कहा था---"झटके लगेंगे| विरोध में स्वर तेज़ होंगे| सहयोगी दलों/व्यक्तियों से सम्बन्धित विवाद संभव है|" आप खुद ही मिला लीजिए| हम तो पहले कह भी चुके हैं कि नीतीश बहुत गलत दिन पद की शपथ ली| इसका खामियाजा तो उन्हें भुगतना ही पड़ेगा| उन्हें पूरे कार्यकाल में ऐसे झटके और विवाद झेलने पड़ेंगे|
                  आज इतना ही| ......... आज के आनंद की जय| ............ जय श्री राम|