गुरुवार, 25 अक्तूबर 2012

गुजरात विधानसभा चुनाव-2012 : कांग्रेस, सोनिया गांधी और अर्जुनभाई मोढ़वाडिया

जय श्री राम ............| आदरणीय मित्रो, अब बात करते हैं कांग्रेस, इसकी राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और इसके प्रदेशाध्यक्ष अर्जुनभाई मोढ़वाडिया की|
                                          भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस 
स्थापना-दिनांक:-02-01-1978         मूलांक:-2          भाग्यांक:-1          आयु अंक:-8 (35 वाँ वर्ष)           नामांक:-3               स्थापना का चलित अंक:-8
                      कांग्रेस का मूलांक 3 इसके नामांक 3, स्थापना के चलित अंक 8 व आयु अंक 8 के साथ हानिकारक युतियाँ बनता है| अंक 2 व अंक 8 की युति इच्छ-पूर्ति में बाधा उत्पन्न करती है तथा भावनाओं को ठेस लगाती है| भाग्यांक 1 के साथ भी यह अंक 2 प्रतिकूल युति बनाता है| इसका आयु अंक 8 + स्थापना का चलित अंक 8 गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ विस्फोटक युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 के साथ विखंडन युति, गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ पितृ द्रोह युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ विरोधी युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ इच्छा-पूर्ति में बाधक युति बना रहा है| अंक 3 के साथ यही अंक 8 निर्णयगत विपरीतता बताता है| कांग्रेस का भाग्यांक 1 गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ पितृ द्रोह युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 3 + मतदान के पहले चरण के दिन-अंक 3 + मतगणना के दिन-अंक 3 के साथ मित्र युति, गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ प्रतिरूप युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ समभाव युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ विपरीत युति बना रहा है| इसका नामांक 3 मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 + भाग्यांक 3 के साथ मित्र युति बना रहा है, इसलिए इस चरण में कांग्रेस को कुछ अनुकूलता रह सकती है| मतदान के दूसरे चरण में समीकरण कांग्रेस के पक्ष में नहीं हैं, इसलिए इस दिन कांग्रेस को झटका लग सकता है| कांग्रेस के चलित के अंक गुजरात के चलित के अंकों और चुनावी अंकों के अधिक विपरीत हैं, इसलिए मतगणना के अंक कांग्रेस के पक्ष में कम, प्रतिपक्ष में अधिक हैं| इसका खामियाजा कांग्रेस को चुनाव-परिणाम वाले दिन भुगतना पडेगा| इस दल के अपने अंक ऐसे नहीं हैं कि लम्बे अरसे बाद गुजरात में सत्तासीन हो सके| यह तो अपनी पिछली सीटें ही इस बार ले ले तो अपने आप को धन्य  बहुत 
                                            सोनिया गांधी
जन्म-दिनांक:-09-12-1946              मूलांक:-9             भाग्यांक:-5            आयु अंक:-4 (67 वाँ वर्ष)               नामांक:-9               जन्म का चलित अंक:-3 (-)
                          सोनिया गांधी के अंक अपेक्षाकृत अच्छे हैं| इनका आयु अंक 4 ज़रूर कुछ जगहों पर गड़बड़ कर रहा है, अन्यथा इनके अंक अच्छी स्थिति में है| इनका मूलांक 9 + नामांक 9   गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ लोकतान्त्रिक विजय युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 के साथ मित्र युति, गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ लगभग मित्र युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ प्रतिरूप युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ विरोधी युति बना रहा है| अंक 3 के साथ यही अंक 9 प्रबल मित्र युति बनाता है| सोनिया का भाग्यांक 5 गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ अस्थिरता युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 के साथ विपरीत युति,  मतदान के पहले चरण के मूलांक 3 + मतदान के पहले चरण के दिन-अंक 3 + मतगणना के दिन-अंक 3 के साथ मित्र युति, गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ समान भाव युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ मित्र युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ विपरीत युति बना रहा है| इनका आयु अंक 4 गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ विखंडन युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 के साथ मित्र युति, गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ मित्र युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ लगभग मित्र युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ इच्छा-पूर्ति में बाधक युति बना रहा है| अंक 3 के साथ यही अंक 4 मित्र युति बनाता है| इनका आयु अंक 4  गुजरात के आयु अंक 8 + मतदान के दूसरे चरण के मूलांक 8 + गुजरात की चलित दशा के अंक 8 के साथ विखंडन युति, गुजरात के भाग्यांक 4 + मतदान के पहले चरण के मूलांक 4 के साथ प्रतिरूप युति,  मतदान के पहले चरण के मूलांक 3 + मतदान के पहले चरण के दिन-अंक 3 + मतगणना के दिन-अंक 3 + गुजरात के मूलांक 1 + मतगणना के भाग्यांक 1 के साथ मित्र  युति, गुजरात के नामांक 9 के साथ समभाव युति, मतदान के दूसरे चरण के भाग्यांक 7 + इसी चरण के दिन-अंक 2-7 + मतगणना के मूलांक 2 के साथ विपरीत युति बना रहा है| इस प्रकार सोनिया गांधी के अंक अच्छी अवस्था में हैं| ये इनके लिए अच्छी अवस्था बताते हैं, किन्तु इसके बाद भी इनके अंक इन्हें कोई बहुत लाभ नहीं दिलवा पाएँगे क्योंकि इनकी पार्टी के अंक बहुत दुर्बल अवस्था में हैं| एक बात कांग्रेस ने बहुत समझदारी वाली की कि राहुल गाँधी को इन चुनावों से दूर रखा| यहाँ ही नहीं, बल्कि हिमाचल प्रदेश से भी दूर रखा; भले ही इसका सांसारिक कारण कुछ भी हो या बताया जाए| हम पहले भी कई बार कह चुके हैं कि राहुल गाँधी के अंक ऐसे हैं कि वे तो पार्टी का जहाँ-जहाँ भी प्रचार करेंगे या पार्टी की कोई विशिष्ट ज़िम्मेदारी संभालेंगे, वहाँ-वहाँ उनकी पार्टी पिटेगी|
                                अर्जुनभाई मोढ़वाडिया
जन्म-दिनांक:-17-02-1957          मूलांक:-8            भाग्यांक:-5           आयु अंक:-2 (56 वाँ वर्ष)              नामांक:-3              जन्म का चलित अंक:-8
            कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अर्जुनभाई देवाभाई मोढ़वाडिया का मूलांक 9 व भाग्यांक 5 नरेन्द्र मोदी के मूलांक-भाग्यांक से सीधे समानता रखता है| इनका नामांक 3 मोदी के नामांक 9 के साथ मित्र भाव राकहता है| अतः यह भी मोदी के अंकों से समानता वाला पक्ष लिए हुए हो गया| इन सब के बाद भी इनके अंक नरेन्द्र मोदी के अंकों की तरह इनके दल को कोई ख़ास फायदा नहीं करवा पाएँगे क्योंकि इनके जन्म का चलित अंक 8 व जन्म का मासांक 2 मोदी के जन्म के चलित अंक 5 व जन्म के मसांक 9 की तरह शत्रुहन्ता योग नहीं बनाते हैं| उस पर से कोढ़ में खाज यह है कि इनका आयु अंक 2 है| यह भी गुजरात के चलित अंकों और चुनावी अंकों के साथ अनुकूल युतियाँ कम और प्रतिकूल युतियाँ अधिक बनाता है; साथ ही यह मोदी के आयु अंक 9 के मुकाबले में कहीं नहीं ठहरता है| इस कारण अर्जुनभाई के अंक कांग्रेस को सत्तासीन करना तो बहुत दूर की बात रही, उसकी दशा दयनीय से बनने से बचाने भी में कोई ख़ास भूमिका नहीं निभा पाएँगे|