रविवार, 22 मई 2011

'PYAAR KA PANCHNAMA' और 'HAPPI' की रिलीज

[यह भविष्यवाणी इन फ़िल्मों के बॉक्स ऑफिस-प्रदर्शन के बारे में है| इसमें निर्माता/निर्माताओं, निर्देशक/निर्देशकों और कलाकारों के नामांक व कुछ के जन्म के अंक प्रयुक्त किये गये हैं| जन्म-दिनांक सही न होने/उपलब्ध नहीं हो पाने या फ़िल्म की रिलीज-दिनांक बदल जाने की स्थिति में इस भविष्यवाणी के फल में अन्तर भी आ सकता है| ]
जय श्री राम............| आदरणीय मित्रो, अपनी व्यस्तताओं के चलते हम अभी तक अखबार 'अंक प्रभा' के मई माह के अंक के पृष्ठ यहाँ आपकी सेवा में प्रस्तुत नहीं कर पाये हैं| रविवार से यही सिलसिला आरम्भ करेंगे| फिलहाल बात करते हैं आज रिलीज होने वाली फिल्मों की|  पहले तय कार्यक्रम के अनुसार आज कुल जमा तीन फ़िल्में रिलीज होने वाली थीं, मगर अब दो ही फ़िल्में- 'PYAAR KA PANCHNAMA' और 'HAPPI'रिलीज हो रही हैं; 'BOL ' अब जून माह में रिलीज होगी|
रिलीज के समीकरण
रिलीज के दिन का मूलांक-भाग्यांक 2 है| इनकी युतियाँ अंक 2 व अंक 7 के साथ शुभ; अंक 3, अंक 5 व अंक 8 के साथ अशुभ तथा अंक 4 व 9 के साथ अपेक्षाकृत अशुभ हैं| चलित अंक 6 (धनात्मक) ही है|    
PYAAR KA PANCHNAMA
 इस फ़िल्म का अंक बनता है-4| यह आज अशुभ है| इसका वृहदंक है-49| अंक 4 के दोहराव और अंक 9 का त्रिकोण आज अशुभ है| इसका मूलांक समीकरण 4-3-6 है| यह भी अशुभ है| फ़िल्म के निर्माता अभिषेक पाठक का अंक 9 अशुभ है| इसका वृहदंक 45 है| यह आज शुभ नहीं है| इस वृहदंक का मूलांक समीकरण 6-3 है| यह भी अशुभ हैं| फ़िल्म के निर्देशक लव रंजन का अंक 3 बनता है| इसका वृहदंक 30 है| ये दोनों आज अशुभ फलदायी हैं| इसका मूलांक समीकरण 6-6 है| यह लगभग बराबर शुभाशुभ की अवस्था में है| इस विश्लेषण से तो यह फ़िल्म फ्लॉप होती दिख रही है|
HAAPI
इस फ़िल्म का अंक है 5| यह अशुभ है| इस का वृहदंक है-23| इस फ़िल्म के निर्माता का नाम हमें उपलब्ध नहीं हो पाया| इसकी निर्देशक भावना तलवार का अंक है-1| यह अशुभ है| इसका वृहदंक 37 है| परस्पर विरोधी अंकों की यह युति अशुभ है| इसका मूलांक समीकरण 2-8 है| यह भी अशुभ है| फ़िल्म के मुख्य कलाकार पंकज कपूर का नामांक 9 है| इसका वृहदंक है-45| इसका मूलांक समीकरण 9-9 है| ये तीनों रिलीज के अंकों के साथ अशुभ युतियाँ बना रहे हैं| 29-05-1954 को जन्मे पंकज कपूर के जन्म का मूलांक 2 शुभ व भाग्यांक 8 अशुभ है| इनका आयु अंक 3 (57 वाँ वर्ष) भी अशुभ है| इस तरह यह साफ़ है कि यह फ़िल्म भी फ्लॉप की संख्या ही बढ़ाएगी|
 मित्रो, अभी तो बस इतना ही| मिलते हैं आज ही फिर से| तब तक के लिए आज्ञा दीजिए| ........... जय श्री राम|