शुक्रवार, 19 नवंबर 2010

ए.राजा का इस्तीफ़ा ::: हम ने पहले ही संकेत कर दिया था

       जय श्री राम .......... | आदरणीय मित्रो,हमें आप की सेवा में यह पोस्ट वैसे तो शनिवार को ही रखनी थी,मगर कुछ तकनीकी कारणों से ऐसा नहीं हो सका| अब आज आप से यह बात बाँट रहे हैं| केंद्र की मनमोहन सरकार को झटके पर झटके लग रहे हैं| एक बड़ा झटका यह लगा कि अपने भारी-भरकम सहयोगी डी.एम.के. के राजा जो मंत्रिमंडल से हटाना पड़ा|
     
      हम ने इस बारे में पहले ही संकेत कर दिया था,और वह भी एक से अधिक बार| आइए,ज़रा एक नज़र डाली हमारे इन संकेतों पर| 01 जनवरी,2010 की पोस्ट 'वर्ष 2010 में भारतीय राजनीति:भाग-1' में 'इंडियन नेशनल कांग्रेस' शीर्षक के अंतर्गत हम ने लिखा था---"...चूँकि देश की कमान इस पार्टी के अंक 8 वाले व्यक्ति के हाथों में है,इसलिए इस पार्टी और इस की केंद्र सरकार को अंक 8 के प्रभाव से बहुत परेशानी का सामना करना पड़ेगा| अंक 8 की दिशा दक्षिण है| इस कारण कांग्रेस और इस की केंद्र सरकार को दक्षिण भारत से सम्बन्धित मसलों को ले कर ख़ासा परेशान होना पड़ सकता है| ये मसले क्षेत्रों या व्यक्तियों से सम्बन्धित हो सकते हैं| ..." इसी पोस्ट में 'सोनिया गांधी' शीर्षक के अंतर्गत हम ने लिखा था---"सोनिया जी को कांग्रेस की ही भाँति अंक 8 से बचना चाहिए,साथ ही अंक 4 से भी|" अपनी एक दूसरी पोस्ट में तो हम ने इस बारे में और भी अधिक स्पष्ट रूप से संकेत किया था| 07 जनवरी,2010 को अपनी पोस्ट 'भारतीय राजनीति:भाग-5' में 'डॉ.मनमोहन सिंह' शीर्षक के अंतर्गत हम ने लिखा था--- "... अंक 7 भावनाओं का तथा अंक 8 लोकतंत्र,लोकतांत्रिक व्यस्था,उठापटक और दक्षिण दिशा तथा अंक 6 सुख का है| इसलिए 7-8-6 चलित वर्षांक 3 के साथ युति यह बताती है कि मनमोहन सिंह को दक्षिण भारत में लोकतांत्रिक/संवैधानिक ढाँचे और क़ानून व व्यवस्था सम्बन्धी तगड़ी परेशानी झेलनी पड़ सकती है| इन्हें अपने दक्षिण भारतीय साथियों को ले कर भी परेशान होना पड़ सकता है| ..."
        मित्रो,आप ख़ुद ही देख लीजिए कि ए.राजा का मंत्री-पद से विदा होना हमारी इन भविष्यवाणियों के दायरे में साफ़-साफ़ आता है| अपने दक्षिण भारतीय साथी (राजा) के कारण मनमोहन सरकार कितनी बड़ी परेशानी में फंसी हुई है| अभी भी यह परशानी दूर नहीं हुई है| दक्षिण भारत से सम्बन्धित हमारी भविष्यवाणियों के सत्य होने का यह क्रम जारी है|अभी कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार के मुखिया येदियुरप्पा पर जो ज़मीन सम्बन्धी घोटालों/गडबडियों के आरोपों और उठापटक के मामले चल रहे हैं तथा इन के इस्तीफ़े का जो चक्कर चल रहा है,यह भी हमारी इन भविष्यवाणियों के दायरे में ही आ रहा है|
        आज बस इतना ही| परसों बिहार विधानसभा चुनावों के परिणाम आ रहे हैं,जो कि रात तक स्पष्ट होंगे| अतः उन के बारे में चर्चा करेंगे गुरुवार को| हाँ,एक ख़ास बात| शुक्रवार को हम आप के साथ बांटेंगे एक खुशखाबरी| तब तक के लिए हमें आज्ञा दीजिए| ........ आज के आनंद की जय| ............ जय श्री राम|