शुक्रवार, 14 मई 2010

आज की रिलीज़ फ़िल्में:ख़ास मज़ा नहीं

जय श्री राम ............ | आदरणीय मित्रो,कैसे हैं आप ? यह आप का मिल रहा प्यार और आशीर्वाद ही है जो थोड़े-से समय में ही इस ब्लॉग के पाठकों की संख्या 2000 के पार जा चुकी है,BLOGSPOT वाले पर भी और WORDPRESS वाले पर भी| MEDIA CLUB OF INDIA वाले का कह नहीं सकते क्यों की वहाँ गणक नहीं लगा रखा है | वैसे वास्तविक संख्या अभी वाली से कम-से-कम 300 ज़यादा है क्यों कि शुरू में कई दिनों तक हम ने गणक लगाया ही नहीं था,बाद में एक बार टेम्पलेट बदलने के चक्कर में सारा मामला गड़बड़ा गया,जब कि तब पाठक-संख्या 250 से ऊपर जा चुकी थी | ख़ैर,कोई बात नहीं | आप का प्यार बड़ी बात है | यह बराबर मिलता रहा तो संख्या वाला मामला तो बहुत पीछे छूट जाएगा | सोमवार से हम यहाँ कुछ ख़ास परिवर्तन करेंगे | उन के बारे में उसी दिन बात करेंगे,आज नहीं | आइए,शुरू करते हैं बात आज रिलीज़ हो रही फिल्मों की |
आज के अंकीय समीकरण
आज का मूलांक 5 व भाग्यांक 4 है | इन दोनों की पारस्परिक युति शुभ नहीं मानी जाती है| यह बुध व राहू का तालमेल है | यह अस्थिरता के साथ ही विखंडन उत्पन्न करती है | चूँकि चलित अंक 6 शुक्र का प्रतिनिधि है,इस लिए यह विखंडन शुक्र से ही सम्बन्धित होगा | इस कारण आज रिलीज़ होने वाली फिल्मों का आर्थिक पक्ष दुष्प्रभावित होगा | चलित वर्षांक तो आप को पता ही है की अंक 3 है |
BUMM BUMM BOLE
 प्रसिद्ध निर्देशक प्रियदर्शन ने इस बार बच्चों की फिल्म पर दाँव खेला है | इस फ़िल्म का अंक बनता है-4,जो की आज का भाग्यांक है | इस का वृहदंक है-49 | यह मंगल व राहू की युति है,जो कि फ़िल्म के झटकेदार साबित हो सकती है | इस का मूलांक समीकरण है 7-7-8 | यहाँ अंक 7 की संख्यागत प्रधानता के बाद भी वह प्रभावी नहीं है,क्यों कि अंक 8 के साथ यह भावनाओं पर आघात बताता है,वहीँ अंक 4 के साथ यह इच्छा-पूर्ति में बाधा | फ़िल्म की निर्माता कंपनी 'परसेप्ट पिक्चर्स' का अंक भी बनता है-4 | इस का वृहदंक बनता है-67 | अंक 4,6 व 7 का त्रिकोण आज के अंकीय सन्दर्भ में आर्थिक पक्ष से सम्बन्धित भावनाओं व इच्छाओं पर आघात बताता है | हाँ,अंक 7 व आज के मूलांक 5 में कुछ अनुकूलता है | प्रियदर्शन का अंक भी 7 है | निर्माता कंपनी के वृहदंक का मूलांक समीकरण 8-5 है | यह युति आज के मूलांक को ज़बरदस्त विखंडित कर देती है | प्रियदर्शन का वृहदंक बनता है-34 | अंक 3,4 व 7 का त्रिकोण परिणामजनक रूप से शुभ नहीं है,क्यों कि अंक 3 व अंक 7 में पारस्परिक मित्रता भाव नहीं है | इस कारण यह फ़िल्म औसत के आस-पास कि सफलता पा सकती है और अपनी लगत निकल सकती है,मगर इस के बड़ी हिट होने की उम्मीद करना बेकार है |
KUSHTI
राजपाल यादव की मुख्य भूमिका वाली इस फ़िल्म में WWE के पहलवान 'द ग्रेट खली' यानि दलीप सिंह की लोकप्रियता भुनाने की कोशिश की गयी है | आइए,देखें कि फ़िल्म बनाने वालों को इस में कितनी कामयाबी मिल पायी है ? इस फ़िल्म का अंक बनता है-3,जो कि आज के हिसाब से कोई ख़ास अनुकूल नहीं है | इस का वृहदंक है-21 | अंक 1,2 व 3 का त्रिकोण आज ठीक-ठाक है | निर्देशक राजीव कुमार का अंक है-8,जो कि आज घोर नुकसानदायक है | इस का वृहदंक है-35 | अंक 3,5 व 8 का त्रिकोण अस्थिरता व निर्णयगत विपरीतता का द्योतक है | इस का मूलांक समीकरण है 2-6,जो कि इच्छा-पूर्ति पर आघात बताता है | अतः यह फ़िल्म फ्लॉप के खाते में ही जाती दिख रही है |
VROOM
 इस फ़िल्म का अंक बनता है-8 | इस का वृहदंक बनता है-26 | निर्माता समीर सबनीस का भी अंक है-8 | इस का वृहदंक है-35,जिस का मूलांक समीकरण है 2-6 | हम इन सभी अंकों के बारे में फ़िल्म 'कुश्ती' में चर्चा कर चुके हैं | निर्देशक साविन तस्केनो का अंक बनता है-9,जो कि आज ठीक-ठाक है | इस का वृहदंक है-45,जो कि शुभ नहीं है | इस का मूलांक समीकरण बनता है 7-2 | आज यह युति मददगार हालत में नहीं है | अतः यह फ़िल्म भी फ्लॉप के ही खाते में जाती दिख रही है |
ADMISSIONS OPEN
अनुपम खेर-आशीष विद्यार्थी स्टारर इस फ़िल्म का अंक बनता है-3,जो कि आज ठीक-ठाक है | इस का वृहदंक है-57 | अंक 3,5 व 7 का त्रिकोण शुभ है | इस का मूलांक समीकरण भी यही यानि 5-7 है | यह भी शुभ ही हुआ | निर्देशक के.डी.सत्यम का अंक बनता है-2 ,जो कि आज कोई ख़ास मददगार नहीं है | इस का मूलांक समीकरण है 2-4-5 | यह युति अस्थिरता व इच्छा-पूर्ति में बाधा बताती है | निर्माता मौहम्मद इसरार अंसारी का अंक बनता है-6,जो कि आज ठीक-ठाक है | इस का वृहदंक है-42,जो कि इच्छा-पूर्ति में बाधा बताता है | इस का मूलांक समीकरण है 2-9-4| यह युति कुछ-कुछ शुभ है | अतः इस विश्लेषण से यह लगता है कि यह फ़िल्म अपनी लागत तो निकल लेगी,मगर इस से हिट होने की उम्मीद करना बेकार है |
मित्रो,यह तो थी आप की सेवा में आज की फिल्मों की बात | अब आप से कल व परसों भी मिलेंगे;और सोमवार का तो पहले ही कह चुके हैं | तो अब आज्ञा दीजिए | आज बस इतना ही | ......... अब आज के आनंद की जय | ............ जय श्री राम |